September 18, 2021

भारत ने संसदीय लोकतंत्र का सर्वोत्तम नेतृत्व खो दिया-यशवन्त सिंह

लखनऊ। विधानपरिषद सदस्य श्री यशवन्त सिंह ने भारत के 13 वें राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है। उन्होंने कहा है कि श्री प्रणब मुखर्जी के निधन से भारत ने संसदीय लोकतंत्र का एक सर्वोत्तम नेतृत्व खो दिया।
सोमवार को पूर्व राष्ट्रपति श्री प्रणब मुखर्जी के निधन की सूचना मिलते ही चन्द्रशेखर चबूतरा, दारुलशफा पर शोक छा गया। इस मौके पर उपस्थित सभी राजनीतिक व सामाजिक कार्यकर्ताओं ने प्रणब दा के उपनाम से विख्यात श्री प्रणब मुखर्जी को संसदीय लोकतंत्र के सर्वोत्तम नेताओं में से एक बताया।
इसे लेकर तत्काल आयोजित प्रार्थना सभा में दो मिनट का मौन रखा गया। इसमें ईश्वर से प्रार्थना की कि वह प्रणब दा की आत्मा को शांति और उनके चाहने वालों को यह दुःसह दुख सहने की शक्ति दे।
प्रार्थना सभा की अध्यक्षता लोकतन्त्र सेनानी कल्याण समिति के संयोजक धीरेन्द्र नाथ श्रीवास्तव ने की। इस अवसर पर सर्वश्री समर बहादुर सिंह, उदय चौरसिया, राधेकृष्ण, संजय गुप्ता, अतुल चौबे, चंचल चौबे, पप्पू पाल, अमित प्रजापति और हरिकेश कनौजिया आदि ने भी पूर्व राष्ट्रपति को भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *